Hot Widget

Type Here to Get Search Results !

Quiz 04 | Physics GK | General Knowledge MCQ Questions with Answers

Physics GK (General Knowledge) MCQ Questions with Answers (Quiz 04)

Physics GK (General Knowledge) MCQ Questions with Answers (Quiz 04): अगर आप किसी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं, तो जनरल नॉलेज को अच्छी करना ( या अच्छी तरह से याद रखना ) बेहद जरूरी है । तो चलिए जानते हैं कौन-से सवाल जो आएंगे आपके काम – 


सभी प्रश्‍नों के उत्‍तर याद करना सभी के लिए लगभग असंभव है, आज हम आपको बता रहे हैं उन सभी खास प्रश्‍नों को उनके उत्‍तर के साथ जो प्रतियोगी परिक्षाओं से लेकर जॉब इंटरव्‍यू में ज्‍यादातर पूछे जाते हैं । अगर आपको इन प्रश्‍नों के उत्‍तर पता हैं तो आपकी मुश्‍किलें हल हो जाएंगी ।
 

1. डायनेमो से किस प्रकार की धारा प्राप्त होती है?

(A) दिष्ट धारा

(B) प्रत्यावर्ती धारा

(C) दोनों धारा

(D) इनमें से कोई नहीं

(A) दिष्ट धारा

डायनेमो (ग्रीक शब्द डायनामिस से व्युत्पन्न हुआ है; इसका अर्थ है पावर या शक्ति), मूल रूप से विद्युत जनरेटर का दूसरा नाम है। आमतौर पर इसका तात्पर्य एक जनरेटर या जनित्र से होता है जो कम्यूटेटर के उपयोग से दिष्ट धारा (direct current) उत्पन्न करता है। डायनेमो पहले विद्युत जनरेटर थे जो उद्योग के लिए विद्युत शक्ति के उत्पादन में सक्षम थे। डायनेमो के सिद्धांत के आधार पर ही बाद में कई अन्य विद्युत उत्पादन करने वाले रूपांतरक उपकरणों का विकास हुआ, जिसमें विद्युत मोटर, प्रत्यावर्ती धारा जनित्र और रोटरी कन्वर्टर शामिल हैं।

2. व्यवसायिक मोटरों में किस प्रकार के चुम्बक का उपयोग होता है?

(A) स्थायी चुम्बक

(B) नाल चुम्बक

(C) विद्युत चुम्बक

(D) सामान्य छड़ चुम्बक

(C) विद्युत चुम्बक

वाणिज्यिक मोटर में, विद्युत चुम्बकों का उपयोग किया जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह मोटर की शक्ति को बढ़ाता है। इस प्रकार, वाणिज्यिक इलेक्ट्रिक मोटर आर्मेचर को घुमाने के लिए स्थायी चुंबक का उपयोग नहीं करते क्योंकि स्थायी चुंबक कमजोर होते हैं और क्षेत्र में मजबूत चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न नहीं करते हैं।

3. मानव के वे दो महत्वपूर्ण भाग कौन हैं जिनमे चुंबकीय क्षेत्र का उत्पन्न होना अनिवार्य है?

(A) हाथ और पैर

(B) मांसपेशियाँ तथा ह्रदय

(C) ह्रदय तथा मस्तिष्क

(D) नेत्र तथा दृक् तंत्रिका

(C) ह्रदय तथा मस्तिष्क

मानव शरीर के मस्तिष्क और हृदय में उत्पन्न चुंबकत्व महत्वपूर्ण होता है। एमआरआई (Magnetic resonance imaging) नामक तकनीक का उपयोग करके मानव के मस्तिष्क में मौजूद चुंबकत्व का उपयोग मस्तिष्क के आंतरिक भागों की छवियों को प्राप्त करने के लिए किया जाता है। 

हृदय और मस्तिष्क आयन धाराओं को उत्पन्न करने वाले अंगों के रूप में जाने जाते हैं। हृदय की मांसपेशी से निकलने वाली धारा, जब त्वचा पर इलेक्ट्रोड से मापी जाती है, इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (ECG) उत्पन्न करती है; वही धारा धड़ के चारों ओर एक चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न करती है, जिसे मापा जाने पर मैग्नेटोकार्डियोग्राम (MCG) कहा जाता है।

4. विद्युत चुम्बक बनाने के लिए प्रायः किस पदार्थ के छड़ का उपयोग होता है?

(A) इस्पात

(B) नरम लोहे

(C) पीतल

(D) इनमें से कोई नहीं

(B) नरम लोहे

अस्थायी चुम्बक बनाने के लिए नर्म लोहे का प्रयोग किया जाता है। विद्युत चुम्बक नर्म लोहे के ही बनाए होते हैं। विद्युत घण्टी, ट्रॉसफॉर्मर क्रोड, डायनामो आदि में नर्म लोहे का ही उपयोग किया जाता है। 

इसके विपरीत स्टील कठिनता से चुम्बक बनता है और कठिनता से ही अपने चुम्बकत्व को छोड़ता है। अत: स्थायी चुम्बक बनाने के लिए स्टील का उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए, लाउडस्पीकर, दिक्सूचक, गैल्वेनोमीटर आदि के स्थायी चुम्बक स्टील के ही बनाए जाते हैं।

5. विद्युत चुम्बकीय प्रेरण की खोज किसने की थी?

(A) मैक्सवेल ने

(B) फ्लेमिंग ने

(C) फैराडे ने

(D) एम्पियर ने

(C) फैराडे ने

किसी चालक को किसी परिवर्ती चुम्बकीय क्षेत्र में रखने पर उस चालक के सिरों के बीच विद्युतवाहक बल उत्पन्न होने को विद्युत्-चुम्बकीय प्रेरण (Electromagnetic induction) कहते हैं। उत्पन्न विद्युत्वाहक बल का मान गणितीय रूप से फैराडे का प्रेरण का नियम द्वारा दिया जाता है। प्रायः माना जाता है कि फैराडे ने ही 1831 में विद्युतचुम्बकीय प्रेरण की खोज की थी।

6. नाभिकीय ऊर्जा प्राप्त करने के लिए क्या आवश्यक है?

(A) क्रोमियम

(B) सिलिकन

(C) यूरेनियम

(D) एल्युमिनियम

(C) यूरेनियम

नाभिकीय ऊर्जा (Nuclear Energy) की प्राप्ति यूरेनियम (Uranium) से की जाती है। भारी नाभिकीय परमाणु (यूरेनियम, प्लूटोनियम, थोरियम) के नाभिक पर निम्न ऊर्जा न्यूटॉन से बमबारी करके हल्के नाभिकों में तोड़ा जा सकता है, जिससे विशाल मात्रा में ऊर्जा मुक्त होती है। यूरेनियम के एक परमाणु क विखण्डन से जो ऊर्जा मुक्त होती है वह कोयले के किसी कार्बन परमाणु के दहन से उत्पन्न ऊर्जा की तुलना में एक करोड़ गुना अधिक होती है। नाभिकीय ऊर्जा प्रदूषण नहीं करती है। यह ऊर्जा थोडी मात्रा में अवशिष्ट पदार्थ उत्पन्न करती है। यह ऊर्जा नवीकरणीय ऊर्जा है। अनेक विकसित और विकासशील देश नाभिकीय ऊर्जा से विद्युत् ऊर्जा का उत्पादन कर रहे हैं।

7. शारीरिक कार्यों को करने के लिए किस प्रकार की ऊर्जा का उपयोग किया जाता है?

(A) विद्युत ऊर्जा

(B) सौर ऊर्जा

(C) पेशीय ऊर्जा

(D) रासायनिक ऊर्जा

(C) पेशीय ऊर्जा

शारीरिक कार्यों को करने के लिए पेशीय ऊर्जा, विविध वैद्युत साधित्रों को चलाने के लिए विद्युत ऊर्जा, भोजन पकाने अथवा वाहनों को दौड़ाने के लिए रासायनिक ऊर्जा, ये सभी ऊर्जाएँ किसी न किसी ऊर्जा स्रोत से प्राप्त होती हैं।

8. ऊर्जा के सभी रूप में अन्ततः स्त्रोत किसे माना जाता है?

(A) कोयला

(B) परमाणु

(C) जल

(D) सूर्य

(D) सूर्य

मेरे हिसाब से तो ऊर्जा का मुख्य स्रोत सूर्य है क्योंकि सूर्य के बिना ना तो वनस्पति हो सकती है ना ही पेड़ पौधे हो सकते हैं और वनस्पति और पेड़ पौधों के बिना हम भी नहीं हो सकते। और बिजली भी सूर्य के बिना नहीं आ सकती। क्योंकि बिजली भी सौर ऊर्जा या नदी नहर के पानी से बनाई जाती है सौर ऊर्जा तो पूर्ण रूप से सूर्य पर ही निर्भर करता है लेकिन नदी का पानी भी सूरज पर ही निर्भर करता है वह चाहे बरसात हो या बर्फ का पिघलना दोनों ही सूरज की देन है। और इन दोनों की वजह से ही नदी में पानी आता है।

9. इनमें से कौन नवीकरणीय ऊर्जा है?

(A) कोयला

(B) सौर ऊर्जा

(C) प्राकृतिक गैस

(D) पेट्रोल

(B) सौर ऊर्जा

नवीकरणीय उर्जा या अक्षय उर्जा (अंग्रेजी:Renewable Energy) में वे सारी उर्जा शामिल हैं जो प्रदूषणकारक नहीं हैं तथा जिनके स्रोत का क्षय नहीं होता, या जिनके स्रोत का पुनः-भरण होता रहता है। सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा, जलविद्युत उर्जा, ज्वारीय उर्जा, बायोमास, जैव इंधन आदि नवीकरणीय उर्जा के कुछ उदाहरण हैं।

10. पृथ्वी पर ऊर्जा का सबसे विशाल स्त्रोत कौन सा है?

(A) सूर्य

(B) लकड़ी

(C) चन्द्रमा

(D) कोयला

(A) सूर्य

मेरे हिसाब से तो ऊर्जा का मुख्य स्रोत सूर्य है क्योंकि सूर्य के बिना ना तो वनस्पति हो सकती है ना ही पेड़ पौधे हो सकते हैं और वनस्पति और पेड़ पौधों के बिना हम भी नहीं हो सकते। और बिजली भी सूर्य के बिना नहीं आ सकती। क्योंकि बिजली भी सौर ऊर्जा या नदी नहर के पानी से बनाई जाती है सौर ऊर्जा तो पूर्ण रूप से सूर्य पर ही निर्भर करता है लेकिन नदी का पानी भी सूरज पर ही निर्भर करता है वह चाहे बरसात हो या बर्फ का पिघलना दोनों ही सूरज की देन है। और इन दोनों की वजह से ही नदी में पानी आता है।

11. डेनमार्क को किसका देश कहा जाता है?

(A) उद्योगों का देश

(B) जल विद्युत का देश

(C) पवनों का देश

(D) खनिज पर्दार्थों का देश

(C) पवनों का देश

पवनों का देश जिस देश को कहा जाता है, उसका नाम डेनमार्क है। ये तो आपको पता चल गया होगा। लेकिन इसे पवनों का देश क्यों कहा जाता है, ये आपको मालूम नहीं होगा। इस country को पवनों का देश इसलिए कहा जाता है, क्योंकि यहां पर बड़े-बड़े रेत के टीलें हैं। जिनकी वजह से यहां पर तेज हवाएं चलती है और तूफान आते रहते हैं। यही कारण है कि इसे पवनों का देश कहा जाता है। यही नहीं इस country में बहुत सारे छोटे-बड़े द्वीप भी हैं, जिसके कारण यहां तेज हवाएं चलती है। यहां पर आंधी और तूफान आते हैं, जिसकी वजह से ये देश पवनों का देश कहलाता है। इस country में छोटी-छोटी झीलें और नदियां भी है। इसके साथ ही कई कारण है जिसकी वजह से ये देश पवनों का देश कहलाता है। यहां की सबसे ऊंची पहाड़ी 170 मीटर ऊंची है। इतना ही नहीं इस देश की जलवायु समशीतोष्ण है। इसकी जलवायु में भी पवनों का एक अहम रोल होता है। यहां की विशेषता ही तेज हवाओं का चलना है। इसकी इसी विशेषता के कारण ये विश्व विख्यात है।

12. सौर सेल बनाने के लिए किस धातु का उपयोग किया जाता है?

(A) स्टील

(B) सिलिकॉन

(C) अबरख

(D) शीशा

(B) सिलिकॉन

सौर सेल सिलिकॉन का बना होता है। सौर सेल या फोटोवोल्टिक सेल एक विद्युतीय उपकरण है जो प्रकाश की ऊर्जा को सीधे फोटोवोल्टिक प्रभाव से विद्युत में परिवर्तित करता है। फोटोवोल्टिक मॉड्यूल में अक्सर सूर्य के सम्मुख पक्ष पर कांच की एक शीट होती है, जो अर्धचालक वेफर की रक्षा करते हुए प्रकाश को पारित होने की अनुमति देती है।

13. सौर सेल सौर ऊर्जा को किस ऊर्जा में रूपान्तरित करते हैं?

(A) विद्युत ऊर्जा में

(B) गतिज ऊर्जा में

(C) यांत्रिक ऊर्जा में

(D) ताप ऊर्जा में

(A) विद्युत ऊर्जा में

सौर सेल सिलिकॉन का बना होता है। सौर सेल या फोटोवोल्टिक सेल एक विद्युतीय उपकरण है जो प्रकाश की ऊर्जा को सीधे फोटोवोल्टिक प्रभाव से विद्युत में परिवर्तित करता है। फोटोवोल्टिक मॉड्यूल में अक्सर सूर्य के सम्मुख पक्ष पर कांच की एक शीट होती है, जो अर्धचालक वेफर की रक्षा करते हुए प्रकाश को पारित होने की अनुमति देती है।

14. निम्न में से किसका उपयोग खाना बनाने वाले ईंधन के रूप नहीं किया जाता है?

(A) LPG

(B) बायोगैस

(C) CNG

(D) कोयला

(C) CNG

कोल, लिग्नाइट, चारको, केरोसीन, एलपीजी / पीएनजी, कुकिंग बायोगैस, कुकिंग (खाना पकाने में) के लिए उपयोग किया जाने वाला ईंधन हैं। CNG गैस का उपयोग खाना बनाने वाले ईंधन के रूप नहीं किया जाता है। 

हालांकि केरोसीन और तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) जैसे आधुनिक ईंधन शहरी भारत में खाना पकाने की ऊर्जा के प्रमुख स्रोत हैं, फिर भी घरों का एक बड़ा हिस्सा बायोमास का उपयोग करता है जैसे कि जलाऊ लकड़ी, गोबर, फसल अवशेष और कोयला / लकड़ी का कोयला।

15. प्रकाशसंश्लेषी अंगक इनमें से कौन है?

(A) स्टोमाटा

(B) जड़

(C) हरित लवक

(D) पत्ती

(C) हरित लवक

हरितलवक या क्लोरोप्लास्ट एक प्रकार का कोशिकांग है जो सुकेन्द्रिक पादप कोशिकाओं में और शैवालीय कोशिकाओं में पाया जाता है। हरितलवक प्रकाश-संश्लेषण द्वारा प्रकाशीय ऊर्जा को रासायनिक ऊर्जा में परिवर्तित करतें हैं। इन का हरा रंग इन में पर्णहरित (क्लोरोफ़िल) रसायन के होने के कारण है जो प्रकाश-संश्लेषण में अत्यावश्यक है। माना जाता है कि नील हरित शैवाल नाम के जीवाणुओं से हरितलवकों का विकास हुआ।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies